तिरुपति बालाजी कैसे जाएं संपूर्ण जानकारी

तिरुपति बालाजी कैसे जाए संपूर्ण जानकारी

वेंकटेश स्वामी मंदिर
Tirupati Balaji temple

वेंकटरमना गोविंदा नमस्ते दोस्तों जय मल्हार टूर्स एंड मैनेजमेंट के इस ब्लॉग पेज पर मैं नीलेश खैरकर आप सभी का स्वागत करता हूं और आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर तिरुपति बालाजी के दर्शन के लिए तिरुपति बालाजी कैसे जाया जाए और उसके बारे में संपूर्ण जानकारी बने रहिए जय मल्हार टूर्स मैनेजमेंट के साथ

तिरुपति बालाजी कैसे जाया जाए

तिरुपति बालाजी मंदिर भारत देश में प्रचलित मंदिरों में से एक है जो कि आंध्रप्रदेश राज्य में आता है यहां पर जाने के लिए देश के कई राज्यों से सीधी ट्रेन सेवा चलती है और फ्लाइट सेवा भी अवेलेबल है आप लोग चाहे तो अपने बजट अनुसार रेल सेवा हवाई सेवा या फिर बस सेवा का चुनाव कर सकते हैं
अगर आप लोग रेल सेवा से तिरुपति बालाजी की यात्रा करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे महत्वपूर्ण बात आपको ध्यान रखना बहुत जरूरी है जोकि आप का रिजर्वेशन टिकट आने का और जाने का कंफर्म होना चाहिए
 तिरुपति बालाजी कैसे जाए
तिरुपति बालाजी कैसे जाए

तिरुपति बालाजी में कहां पर रहे और रूम कैसे बुक करें

अगर आप लोग तिरुपति बालाजी में रहने के लिए कुछ दिनों के लिए रूम बुक करना चाहते हैं तो बड़ी आसानी से आप रूम बुक कर सकते हैं मगर आप लोगों को तिरुपति बालाजी के दर्शन करने के लिए और वहां के साइट सीन घूमने के लिए कम से कम 2 से 3 दिन के लिए रूम बुक करना चाहिए
आप लोग रूम बुक करने के लिए तिरुपति बालाजी के द्वारा बनाए गए संस्थान के रूम तिरुपति बालाजी के ऑफिशल website
ttd online 
पर जाकर अपनी सुविधानुसार एसी नॉन एसी रूम को आसानी से बुक कर सकते हैं इसकी चार्जेस ₹50 से लेकर की ₹1000 तक है मगर आप लोगों को यह रूम लेनी है तो आप लोगों को कम से कम 2 महीने या फिर 3 महीने पहले ही ऑनलाइन बुकिंग करवानी होगी वहां पर पहुंचने पर आप लोगों को इस संस्थान द्वारा रूम नहीं दी जाएगी अगर आप लोग फिर भी इस संस्थान की रूम बुक करना चाहते हैं तो आप लोगों को कई घंटों तक लाइन में खड़ा रहना पड़ सकता है इसीलिए आप लोग हो सके तो घर से ही ऑनलाइन रूम बुक कर ले या फिर बाहर प्राइवेट होटल बुक कर सकते हैं

तिरुपति बालाजी में  होटल कैसे बुक करें

वैसे तो तिरुपति बालाजी शहर में कई प्राइवेट होटल है जो कि आप लोगों को आप लोगों की सुविधा अनुसार350 रुपए से लेकर की ₹10000 तक के रेट वाले हटेल अवेलेबल है आप लोग चाहे तो आपकी सुविधा अनुसार अच्छे से अच्छा हटेल ₹1000 तक आसानी से बुक कर सकते हैं अगर आप लोग प्राइवेट होटल बुक करना चाहते हैं तो मैं आप लोगों को सजेशन दूंगा कि आप तिरुपति बालाजी में बस स्टैंड के आसपास या रेलवे स्टेशन के आसपास ही होटल बुक करें जिससे कि आप लोगों को ऊपर तिरुमला वेंकटेश्वर स्वामी के दर्शन के लिए जाने में और आने में आसानी हो

तिरुपति बालाजी से वेंकटेश स्वामी तिरुमला के दर्शन के लिए कैसे जाए

तिरुमाला जाने के लिए आप लोगों को तिरुपति बालाजी की बस फ्री बस सेवा मिल जाएगी जोकि लाल कलर की बस होती है इसके अलावा आप लोगों को वहां से संस्थान की ही प्राइवेट बस इस सेवा हर पांच 5 मिनट बाद उपलब्ध है जिसका टिकट एक तरफ का ₹55 होता है और अगर आप लोग आने और जाने का टिकट एक साथ निकलते हैं तो वह आपको ₹100 में मिल जाएगा यह टिकट 3 से 4 दिन तक वेद रहता है

तिरुपति बालाजी के दर्शन के लिए जाते वक्त कुछ महत्वपूर्ण सूचना

आप लोगों को एक बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है जोकि तिरुपति बालाजी के दर्शन करने के लिए जाते वक्त आप लोगों को दर्शन के लिए आपका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है जो कि फ्री में रहता है उसके अनुसार आप लोगों को दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की एक पर्ची मिलेगी जिस पर आप लोगों को दर्शन करने के लिए किस समय पर किस जगह पर किस गेट नंबर पर उपस्थित रहना है वह सभी कुछ उस चिट्ठी पर लिखा होगा अगर आप लोग चाहे तो जल्दी दर्शन करने के लिए तिरुपति बालाजी संस्थान की वेबसाइट पर जाकर ₹350 का फास्ट दर्शन टिकट भी ले सकते हैं मगर मैं आप लोगों से अनुरोध करूंगा कि आप लोग फ्री दर्शन का चुनाव करें इस दर्शन में आप लोगों को कम से कम 3 घंटे से लेकर के 6 घंटे तक का समय लग सकता है और ₹350 वाले टिकट में आप लोगों को 10 मिनट में दर्शन करने का आश्वासन दिया जाएगा मगर फिर भी आप लोगों को 2 से 3 घंटे दर्शन के लिए लगने वाले हैं इसीलिए मैं आप लोगों से अनुरोध करता हूं कि आप लोग प्रियदर्शन का रजिस्ट्रेशन कर कर उचित चुनाव करें

दर्शन से जाने से पहले अपने जूते चप्पल बैग मोबाइल कैमरा आदि सामान आप अंदर नहीं ले जा सकते यह सभी सामान कहां पर रखें

तिरुपति बालाजी के दर्शन के लिए जाते वक्त आप लोगों को इन बातों का ध्यान रखना जरूरी है कि आप लोग जूते चप्पल बैग कैमरा मोबाइल कोई भी इलेक्ट्रॉनिक गैजट या चमड़े का बेल्ट अंदर नहीं ले जा सकते इनको आप लोगों को बाहर तिरुपति बालाजी संस्थान के बने हुए लॉकर रूम में रखना होगा

जोकि आप लोगों के लिए निशुल्क होते हैं आखिर आप लोगों को यह लॉकर रूम कहां पर मिलेंगे तिरुपति बालाजी से तिरुमल्ला जाते वक्त बस वाला आप लोगों को बस स्टैंड पर उतार देगा वहां से आप लोगों को

CRO ऑफिस कहां पर है यह किसी को पूछना होगा और सी आर ओ ऑफिस के पास पहुंचते ही उसके नजदीक ही आपको तिरुपति बालाजी का फ्री लॉकर रूम वहीं पर मिल जाएगा तिरुमाला में ऐसे कई लॉकर रूम बने हुए हैं लॉकर रूम के अंदर जाते ही आप लोगों को आप का पहचान पत्र आधार कार्ड पैन कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस या फिर वोटर आईडी कुछ भी दिखा कर लॉकर रूम की चाबी ले लेना है यह लॉकर रूम आप लोगों को बस स्टैंड से नजदीकी ही मिलेगा

उस लॉकर रूम में अपने सभी जरूरी सामान को रखकर आपके दर्शन की चिट्ठी पर दिए गए वक्त पर आप लोगों को दर्शन के लिए हाजिर होना होगा और दर्शन कर कर वापस आते वक्त आप लोग लॉकर रूम में से अपने जरूरी सामान को लेकर वापस बस स्टैंड की ओर जाकर बस पकड़ कर वापस नीचे आ सकते हैं या फिर आप लोग तिरुमाला में रुकना चाहते हैं तो उसके लिए आप लोगों को संस्थान की वेबसाइट पर जाकर तिरुमल्ला के  संस्थान द्वारा नियोजित रूम बुकिंग करना होगा या फिर आप लोग वहां पर जाकर भी रूम बुक कर सकते हैं मगर उसके लिए आप लोगों को सवेरे 5:00 बजे से वह काउंटर शुरू होता है आप लोगों को उस लाइन में लगना होगा तब जाकर आपको एक-दो घंटे लाइन में खड़े रहने के बाद रूम मिल सकती है

तिरुपति बालाजी के दर्शन होने के बाद तिरुपति में कहां-कहां घूमे और कैसे होंगे साइट सीन

 तिरुपति बालाजी कैसे जाएं
तिरुपति बालाजी कैसे जाएं

तिरुपति बालाजी के दर्शन करने के बाद आप लोग नीचे तिरुपति आ जाइए जहां पर आप लोगों का होटल या रूम बुक होगा वहां से आप लोग माता पद्मावती मंदिर के दर्शन करना अनिवार्य है उसके बिना आप लोगों की तिरुपति बालाजी की यात्रा पूरी नहीं होगी उसके बाद आप लोगों को तिरुपति में स्थित कई मंदिरों को मुझे दे सकते हैं जैसे कि वहां से स्थित 50 किलोमीटर की दूरी पर श्री कालाहस्ती मंदिर जो कि बहुत ही सुंदर है वहां जा सकते हैं फिर कपिलेश्वर मंदिर इस्कॉन मंदिर राम मंदिर गणेश मंदिर और वहां से 100 किलोमीटर स्थित गोल्डन टेंपल भी जा सकते हैं जो कि आपके लिए बहुत ही सुंदर और लाइफटाइम एक्सपीरियंस होगा और तिरुपति बालाजी में रेलवे स्टेशन के नजदीक गोविंद स्वामी मंदिर जो कि बहुत ही सुंदर और आश्चर्यजनक है कहा जाता है कि यह मंदिर तिरुपति बालाजी के बड़े भाई को समर्पित है इतना घूमने के बाद आप लोगों की तिरुपति बालाजी की यात्रा पूर्ण हो जाएगी इसके बाद आप लोग चाहे तो जैसे की मान्यता है कि तिरुपति बालाजी को दो पत्नियां थी जिसमें से एक माता पद्मावती जिसके दर्शन आप लोग कर चुके हैं उसके बाद कोल्हापुर में स्थित माता लक्ष्मी मंदिर है मान्यता है कि तिरुपति बालाजी के दर्शन करने के बाद अगर कोई भी भक्त माता लक्ष्मी के दर्शन करता है तो उसकी यात्रा सफल मानी जाएगी यह पूर्ण यात्रा करने के लिए आप लोगों को तिरुपति बालाजी से कोल्हापुर के लिए डायरेक्ट ट्रेन मिल जाएगी जो कि दिल्ली चलती है जिसका नाम हरिप्रिया एक्सप्रेस है जो रात को 9:00 बजे चलती है
इसी तरह की जानकारी के लिए बने रहिए जय मल्हार टूर्स एंड मैनेजमेंट के साथ अगर आप लोग चाहे तो हमसे यह टूर पैकेज ले सकते हैं जो कि आप लोगों को हम से संपर्क करने पर बड़ी आसानी से दिया जाएगा अगर आप लोगों को यह जानकारी उचित लगी हो तो हमारी इस ब्लॉग पेज को जरूर फॉलो करें

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां