वैष्णो देवी गुफा से जुड़े चमत्कारी रहस्य जाने

वैष्णो देवी गुफा से जुड़े चमत्कारी रहस्य जाने
वैष्णो देवी प्राचीन गुफा, गर्भ जून गुफा
वैष्णो देवी प्राचीन गुफा


जय माता दी दोस्तों श्री माता वैष्णो देवी यह तीर्थ स्थल भारत देश के जम्मू राज्य के कटरा गांव में है इसी कटरा गांव को श्री माता वैष्णो देवी धाम के नाम से भी जाना जाता है जहां पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु माता रानी के दर्शन को और उनकी चमत्कारी प्राचीन गुफा के दर्शन के लिए आस लगाए हुए हजारों किलोमीटर से माता के दर्शन के लिए हर दिन आते रहते हैं

आखिर कैसे होते हैं माता रानी के प्राचीन गुफा के दर्शन और किसे मिलते हैं

वैष्णो पिंडी दर्शन
वैष्णो देवी पिंडी दर्शन


माता रानी की यह प्राचीन गुफा बहुत ही रहस्यों से भरी पड़ी है और चमत्कारी है इस गुफा के दर्शन करने की आस माता रानी के सभी श्रद्धालुओं में होती है आखिर कब खुलती है यह प्राचीन गुफा क्या आप जानते हैं प्राचीन गुफा के दर्शन का लाभ आप सभी लोग उठा सकते हैं श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के अनुसार जब भी श्री माता वैष्णो देवी कटरा में 10000 से कम श्रद्धालु माता रानी के दर्शन के लिए आते हैं तभी श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड इस गुफा को खोलने का निर्णय लेता है
वैष्णो देवी टेंपल, वैष्णो देवी भवन

वैष्णो देवी कैसे जाएं संपूर्ण जानकारी


वैष्णो देवी कैसे जाएं संपूर्ण जानकारी


कहा जाता है कि इस गुफा का निर्माण आज से 700 साल पहले पंडित श्रीधर ने किया था जो कि माता रानी का परम भक्त था जिसे माता रानी ने स्वयं साक्षात दर्शन दिए थे कहा जाता है कि इस प्राचीन गुफा में भैरव का शरीर आज भी माता रानी की इस प्राचीन गुफा के अंदर पड़ा हुआ है इस प्राचीन गुफा के दर्शन नसीब वालों को ही होते हैं जो भी  इस प्राचीन गुफा से प्रवेश करते हुए भैरो के शरीर को पार करके माता रानी के  पिंडी दर्शन  करता है  उसकी यात्रा सफल मानी जाती है  और उसका जीवन  सुख संपदा और ऐश्वर्या से  भरा रहता है और उसे जीवन में किसी भी कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ता है  इस गुफा के दर्शन करने के बाद ऐसा लगता है कि इस गुफा के दर्शन करने के बाद कि हमने पिछले जन्म में जरूर कोई पुण्य किया होगा इस गुफा के अंदर सदा शुद्ध गंगाजल बहता रहता है और उस शुद्ध गंगाजल से पवित्र होकर भक्तजन आगे बढ़ते हैं और माता रानी के पिंडी स्वरूप मैं दर्शन करते हैं और कहा जाता है कि जो भी भक्त जान इस गुफा के मार्ग से माता रानी के दर्शन करता है उसे सुख ऐश्वर्य प्राप्त होता है और उसकी सभी मनोकामना पूरी होती है और उसका जीवन सुखो से भरा हुआ होता है
अभी भक्तों को दर्शन करने के लिए बढ़ती भीड़ के कारण साइन बोर्ड ने कुत्रीम गुफा का निर्माण किया है भक्त जनों को इसी कुतरिम गुफा से माता के दर्शन कराए जाते है मगर आज भी प्राचीन गुफा के मार्ग से दर्शन करने का लाभ कई भक्तों को मिलता है जैसा कि हमने बताया जब भी माता रानी के भवन पर 10000 से कम श्रद्धालु आते हैं प्राचीन गुफा के द्वार भक्तजनों के लिए खोल दिए जाते हैं और आज भी श्रद्धालुओं को इस प्राचीन गुफा के दर्शन करने का लाभ प्राप्त होता है ऐसा केवल जनवरी महीने में ही होता है क्योंकि जनवरी महीने में अधिक बर्फबारी के कारण श्रद्धालुओं की संख्या में कमी आती है

सबसे महत्वपूर्ण अर्ध कुंवारी की चमत्कारी प्राचीन गुफा

गर्भ जून गुफा
गर्भ जून गुफा

अर्ध कुंवारी की गुफा को चमत्कारी इसलिए कहा जाता है कि कहा जाता है कि जब पंडित श्रीधर ने माता रानी के कहने पर कटरा में उसके घर पर भंडारे का आयोजन कराया था तो उस वक्त उसने भैरव को भी आमंत्रित किया था और वहां पर माता रानी स्वयं उपस्थित थी पैरों ने माता रानी का हाथ पकड़ा और माता रानी वहां से निकल गई भैरू भी उनके पीछे उन्हें पकड़ने के लिए चला गया इसी कारण माता रानी त्रिकूट पर्वत पर स्थित एक गुफा में चली गई और वहां पर हनुमान जी को बुलाकर हनुमान जी को कहा कि आप भैरव के साथ कुछ दिनों तक खेलो तब तक मैं 9 माह तक इस गुफा में आराम करूंगी और इसी गुफा को गर्भ जून गुफा कहा जाता है कहा जाता है कि इस प्राचीन गुफा में माता रानी ने 9 महीने विश्राम किया था जैसे कि बालक माता के गर्भ में रहता है इस गुफा के दर्शन मात्र से कहा जाता है कि जो भी भक्तजन इस गुफा के एक बार दर्शन कर ले उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है और उसे दोबारा माता के गर्भ में आने का काम नहीं होता अगर किसी कारण उसका दूसरा जन्म हुआ और वह व्यक्ति ने गर्भधारण किया और इस दुनिया में जन्म लिया उस व्यक्ति का जीवन सुख संपदा और वैभव से भरा हुआ होता है और उसे पुनः  गर्भ में आने का कष्ट नहीं उठाना पड़ता  है  अगर वह व्यक्ति  अगले जन्म में  गर्व प्रवेश करता है तो उसे किसी भी प्रकार की तकलीफ का सामना नहीं करना पड़ता है और उसका जीवन सुखी वैभवशाली और खुशहाल रहता है यह मान्यता सदियों से चली आ रही है यह जानकारी पहुंचाना हमारा उद्देश समझकर हमने इस पोस्ट के माध्यम से आप तक पहुंचाने का प्रयास किया है अगर आप लोग इस जानकारी से सहमत हो या फिर आप लोगों के कुछ प्रश्न रह गए हो तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं
इसी तरह की जानकारी को पाते रहने के लिए आप लोग हमारे इस ब्लॉग पेज के वेबसाइट को फॉलो करें क्योंकि हम आप लोगों के लिए इसी तरह के भारत देश में स्थित सभी जगहों के और तीर्थ स्थलों के बारे में और पर्यटन स्थलों के बारे में और दैनिक जीवन में हर सुविधा और जानकारी के लिए आप तक इसी तरह की पोस्ट और जानकारी लाते रहते हैं तो चलिए मिलते हैं अगली कुछ नई जानकारी के साथ अगले आर्टिकल के साथ जय हिंद जय भारत


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां