क्या चाइना ने खोजली कोरोनावायरस की वैक्सीन?

क्या चाइना ने खोजली कोरोना वायरस की वैक्सीन?

कोरोना वैक्सीन
कोरोना वैक्सीन


2019 के अंत  आते दुनिया भर में कोरोना वायरस नाम की बीमारी ने दस्तक दी है जोकि बहुत ही घातक बीमारी मानी जा रही है इस बीमारी की शुरुआत चीन देश के बुहान शहर से हुई है और बुहान शहर को ही इस कोरोनावायरस का मुख्य केंद्र बताया जा रहा है इस बीमारी की चपेट में अभी तक 74 मुल्क इसकी चपेट में आ चुके हैं और अकेले चाइना में ही 80000 से अधिक लोग इस बीमारी से प्रभावित हुए है और 3000 से अधिक लोगों की इस कोरोनावायरस की बीमारी से जान जा चुकी है और इस बीमारी के कारण चाइना में इमरजेंसी जैसे हालात बन चुके हैं और बुहान शहर मैं लॉक डाउन जैसी स्थिति हो गई है चाइना सरकार के मुताबिक ना कोई बुहान शहर जा सकता है और ना ही वहां से कोई बाहर निकल सकता है

कोरोनावायरस की दवा मिल गई है क्या

कोरोना
कोरोना वायरस


यह दावा हम नहीं कर रहे हैं बल्कि चीन सरकार के पीपल्स लिबरेशन आर्मी के मेजर जनरल शेन  वेई ने और उनकी टीम  ने किया है और उन्होंने कहा है कि हमारी टीम इस पर 1 महीने से काम कर रही है और उन्होंने बताया कि हमने कोरोनावायरस की वैक्सीन तैयार कर ली है यह वही टीम है जिसने 2002 में और 2014 में बुला के खतरे से बचाने के लिए दुनिया की मदद की थी और उस बीमारी के लिए वैक्सीन का और उसके इलाज का निर्माण किया था इस टीम में 26 सर्वद्न्या और 50 से अधिक वैज्ञानिक काम कर रहे हैं और शंघाई में एक अखबार के मुताबिक कोरोना से प्रभावित 75 परसेंट मरीज इस बीमारी से ठीक हो गए हैं और इसकी पुष्टि शंघाई के हेल्थ कमीशन ने की है और यह खबर  चाइना में  जोरों शोरों से चल रही है और संपूर्ण चाइना में और दुनिया में खुशी की लहर दौड़ चुकी है और लोगों ने कुछ हद तक राहत की सांस ली है फिर भी हमें सतर्क रहने की  आवश्यकता है और हमें  स्वच्छता  और इस बीमारी से  बचने की  प्राथमिकता की ओर  ध्यान देना चाहिए अगर चाइना सरकार का यह दावा  सही पाया जाता है तो यह दुनिया के लिए एक राहत की सांस होगी  और बहुत बड़ा कदम होगा क्योंकि  इस बीमारी के कारण  कई देश  प्रभावित हो रहे हैं और साथ ही चाइना की अर्थव्यवस्था को  तगड़ा नुकसान  हुआ है 

चाइना सरकार का यह बयान कितनी हद तक ठीक है यह हमें पता नहीं और हम इसकी पुष्टि नहीं करते वैसे भी कोरोना वायरस से अभी तक 90000 लोग प्रभावित हुए हैं और 3000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और चाइना सरकार पर इस बीमारी को छुपाने का भी आरोप लग चुका है इसलिए चाइना सरकार का यह दावा कितनी हद तक ठीक है यह कुछ कहा नहीं जा सकता मगर आप लोगों से निवेदन है कि इस बीमारी को लेकर की ज्यादा घबराए ना और स्वच्छता की ओर और अपने स्वास्थ्य की ओर अपने प्रतिकार क्षमता को बढ़ाने की ओर ध्यान दें जिससे कि अगर यह बीमारी हमारे भारत देश मैं हम तक पहुंचती है तो हम इसका डटकर सामना कर सके

कोरोना वायरस से प्रभावित देश

कोरोना वायरस लैब
चाइना

इस बीमारी के कारण संपूर्ण दुनिया में दहशत जैसा माहौल बन चुका है और बात करें तो अमेरिका में अभी तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है और 160 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं वहीं जापान में 12 लोगों की मौत हो चुकी है और 1000 से अधिक लोग इससे प्रभावित हुई है इटली में 107 लोगों की मौत हो चुकी है और वही ईरान की बात करें तो 90 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है फ्रांस में चार लोगों की मौत हो चुकी है और 285 से अधिक लोग इससे प्रभावित हुई है और भारत में भी  इस बीमारी ने दस्तक दी है  कुछ जगहों पर इस बीमारी के  संदिग्ध  मिले हैं जैसे कि  दिल्ली  केरला  महाराष्ट्र उत्तर प्रदेश पश्चिम बंगाल  जैसे कई राज्यों में  मिलने की पुष्टि की गई है साउथ कोरिया में इससे प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या 5700 से अधिक हो गई है सरकारी आंकड़ों के अनुसार चीन में अभी तक 3000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है मगर असलियत में यह आंकड़ा ज्यादा हो सकता है
इस वायरस से बचने की जब तक कोई ठोस दवा नहीं मिल जाती और किसी देश द्वारा  डब्ल्यूएचओ  द्वारा ऑफिशल ऑफिशल घोषणा नहीं हो जाती तब तक हमें सतर्क रहना है और डरना नहीं है और अफवाहों से बचना है


भारत के योग गुरु रामदेव बाबा ने बताया कोरोनावायरस से बचने के उपाय

योग
योगासन


हमारे भारत देश ने आयुर्वेद के माध्यम से कई बीमारियों पर कामयाबी हासिल की है उसी में से एक जोकि जब प्रसिद्ध माननीय श्री योग गुरु रामदेव जी बाबा इन्होंने कोरोना वायरस से बचने के लिए कुछ उपाय करने की साला दुनिया को और देशवासियों को दी है जो कि इस प्रकार है रामदेव बाबा जी ने बताया कि अगर आप लोग गिलोय तुलसी हल्दी और काली मिर्च का काढ़ा बनाकर रोजाना उसका सेवन करते हैं तो आपकी एमिनो सिस्टम यानी कि शरीर की प्रतिकार क्षमता मजबूत होगी और इसके कारण इस तरह की बीमारी से बचने में आप लोगों को आसानी होगी क्योंकि इस तरह की बीमारियां हमारे प्रतिकार क्षमता कम होने के कारण हमारे मस्तिष्क और हृदय पर डायरेक्ट प्रभाव करती है और उसे डैमेज करती है
हमारे शरीर की प्रतिकार क्षमता मजबूत होने के कारण यह बीमारी हमारे शरीर पर डायरेक्ट ज्यादा असर नहीं डाल पाएगी और हम इस बीमारी से लड़ सकेंगे मगर रामदेव बाबा जी की गिलोय तुलसी हल्दी और काली मिर्च वाले काढ़ा पीने से हमारे शरीर की प्रतिकार क्षमता बढ़ती है इसका भी हम दवा नहीं करते यह आप लोगों पर निर्भर है आप लोग चाहे तो किसी आयुर्वेद तन्ने से या फिर आपके नजदीकी डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं या फिर स्वयं रामदेव बाबा से संपर्क कर सकते हैं

और माननीय श्री योग गुरु रामदेव जी बाबा ने दुनिया भर के सभी लोगों को और भारत देश के देश वासियों को कुछ योग आसन करने की सलाह दी है जिसके कारण हमारे शरीर की प्रतिकार क्षमता बढ़ सकती है और प्रतिकार क्षमता पढ़ते ही इस तरह की घातक बीमारियां हमारे शरीर पर डायरेक्ट प्रभाव नहीं डाल सकती कुछ योग आसन इस प्रकार है कि
से कपालभाति सूर्य नमस्कार अनुलोम विलोम प्राणायाम ब्रह्मा री आदि आसन करने से हमारे शरीर की प्रतिकार क्षमता में बढ़ोतरी होगी और हमारा  शरीर इस तरह के वायरस का मुकाबला करने में सक्षम होगा और हमें कुछ बातों पर ध्यान देना भी जरूरी है जिस प्रकार हमें किसी से हैंड शेक की जगह पर नमस्ते करना है दिन में जैसे भी वक्त मिले हाथ धोना है और कम से कम 20 मिनट तक हाथ धोना है अगर बाहर किसी जगह पर जाते हैं तो सार्वजनिक जगह की किसी वस्तु को नहीं छूना है और मांस का भी इस्तेमाल करना है क्योंकि यह बीमारी शेख हैंड से भी बढ़ती है
इस बीमारी से ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है और अफवाह वाले वीडियो और मैसेज को इग्नोर करें क्योंकि इस वर्ष के बारे में काफी हद तक अफवाह फैलाई जा रही है
और हो सके तो आप लोग भीड़भाड़ वाली जगहों पर ना जाए और कहीं बाहर देश के टूर प्लान ना करें

क्या बदलती मौसम और गर्मी के कारण कोरोना वायरस खत्म होगा

कुछ जगहों से खबर आ रही है कि बदलते मौसम और गर्मी के कारण बढ़ती धूप के कारण कोरोनावायरस खत्म हो सकता है जैसे कि देखने को मिला है कि जिस देशों में या जिस जगह पर ज्यादा गर्मी और ज्यादा टेंपरेचर है ऐसी जगह पर कोरोना वायरस का प्रभाव नहीं देखा गया है मगर इस दावे को वैज्ञानिकों ने पूरी तरह से सही नहीं बताया है और उनके मुताबिक ऐसा हो सकता है कहा गया है हमारे भारत देश में गर्मी के मौसम ने दस्तक दे दी है और कुछ ही दिनों में हमारा देश का टेंपरेचर भी बढ़ेगा इस कोरोनावायरस की बीमारी से किस हद तक राहत मिलेगी यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा फिर भी हमें सतर्क रहने की आवश्यकता है और साफ-सफाई की तरफ ध्यान देने की आवश्यकता है


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां