काल भैरव मंदिर में भोग के रूप में चढ़ाई जाति है शराब

उज्जैन के काल भैरव मंदिर में भोग के रूप में चढ़ाई जाती है शराब

काल भैरव मंदिर उज्जैन
काल भैरव मंदिर उज्जैन


हमारे भारत देश में ऐसे अनेक मंदिर है जो अपनी अनोखी परंपरा के लिए जाने जाते हैं उनमें से एक मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित काल भैरव मंदिर है जहां पर भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप में शराब चढ़ाई जाती है

आप इस बात को सुनकर चौक जाएंगे की क्या सचमुच भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप  चढ़ाई जाती है शराब मध्य प्रदेश इसी तरह के रहस्यमई मंदिरों के लिए जाना जाता है
चलिए जानते हैं इस काल भैरव मंदिर के बारे में संपूर्ण जानकारी के साथ



नमस्ते दोस्तों मेरा नाम निलेश खैरकर जय मल्हार टूर्स एंड मैनेजमेंट के इस ब्लॉग पेज पर मैं आप सभी का स्वागत करता हूं अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आए तो हमारे इस ब्लॉग पेज को शेयर करें और हमारी वेबसाइट को फॉलो करके हमें मोटिवेट करें

आखिर क्यों चढ़ाई जाती है भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप में शराब


भगवान और शराब सुनकर अजीब लगता है ना मगर यह सच है उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर से नजदीक स्थित काल भैरव मंदिर में भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप में शराब चढ़ाई जाती है हमारे भारत देश में ऐसे अनेक रहस्यमई और चमत्कारी मंदिर है जिस के रहस्य से आज तक कोई भी पर्दा नहीं उठा सका है लगता है यह हमेशा एक रहस्य ही रहेगा इस चमत्कारी रहस्य को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं आखिर कैसे एक मूर्ति शराब पी सकती है यह प्रश्न हर एक इंसान के जहान में रहता है

कहा जाता हैै कि या मंदिर आज से हजारों वर्ष पुराना है जितना पुराना उज्जैन का महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर है

उतना ही पुराना काल भैरव मंदिर भी है क्योंकि काल भैरव मंदिर की स्थापना भगवान शिव ने स्वयं की थी ऐसा कहा जाता है भगवान शिव उज्जैन के राजा और काल भैरव को उज्जैन की रक्षा के लिए  उज्जैन का कोतवाल स्वयं भगवान शिव ने नियुक्त किया था

यह मंदिर हमारे भारत देश के मध्य प्रदेश राज्य में उज्जैन शहर में महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग जोकि हमारे देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में से 1 ज्योतिर्लिंग कहलाता है उसके नजदीक ही शिप्रा नदी के किनारे  यह काल भैरव मंदिर स्थित है

कहा जाता है कि इस मंदिर में भगवान काल भैरव की मूर्ति के मुंह को जैसे ही शराब से भरे प्याले लगाए जाते हैं वह प्याले खाली हो जाते हैं यह कोई चमत्कार से कम नहीं कहां जाता है कि कई वर्षों पहले एक अंग्रेज अधिकारी द्वारा इस मंदिर में तहकीकात की गई कि आखिर यह सारी शराब जाती कहां है इसके लिए उस अधिकारी ने इस मंदिर की काल भैरव मूर्ति के अगल बगल कई गहरी खुदाई करवाई मगर उन्हें कुछ भी प्राप्त नहीं हुआ वह लोग अंत इस बात की तहकीकात नहीं कर सके कि आखिर यह सारी शराब जाती कहां है आखिर वह भी भगवान काल भैरव के भक्त बन गए

लोगों के मुताबिक भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप में शराब चढ़ाने से उन्हें कोर्ट कचहरी की समस्या से मुक्ति संतान प्राप्ति की समस्या से मुक्ति शत्रु बाधा से मुक्ति और मान सम्मान की प्राप्ति होती है इसीलिए यहां पर भक्त जाना अपनी पसंद अनुसार देसी विदेशी हर तरह के शराब भगवान काल भैरव को प्रसाद के रूप में चढ़ाते हैं और भगवान काल भैरव उनकी मनोकामना जरूर पूरी करते हैं ऐसी उन लोगों की आस्था है


मंदिर का प्राचीन इतिहास


काल भैरव मंदिर
काल भैरव मंदिर


कहा जाता है कि प्राचीन काल में इस काल भैरव मंदिर का प्रयोग अघोरी और नागा साधु द्वारा तंत्र मंत्र की विद्या गहन साधना के लिए किया जाता था और यह भी माना जाता है कि यहां पर बलि प्रथा का भी चलन था इस मंदिर में इन साधुओं के अलावा आम इंसान को प्रवेश की अनुमति नहीं थी

परंतु अब यह मंदिर आम इंसान के लिए यानी कि सभी के लिए खुला कर दिया गया है और यहां पर बलि प्रथा का भी अंत कर दिया गया है

कैसे जाए उज्जैन के काल भैरव मंदिर


अगर आप लोग भगवान काल भैरव के दर्शन के लिए जाना चाहते हैं तो यह मंदिर हमारे भारत देश के मध्य प्रदेश राज्य में उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के नजदीक ही स्थित है यहां पहुंचने के लिए आपको सीधे उज्जैन जाना होगा जो कि हमारे भारत देश की सभी राजमार्गों से सीधा जुड़ा हुआ है

अगर आप ट्रेन से जाना चाहते हैं तो कई राज्यों के शहरों से उज्जैन के लिए डायरेक्ट ट्रेनें चलती है अगर आपके शहर से उज्जैन के लिए डायरेक्ट ट्रेन नहीं मिलती है तो उज्जैन के नजदीक ही सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन इंदौर जंक्शन है इंदौर के लिए देश के सभी छोटे बड़े राज्यों से  ट्रेनें आसानी से मिल जाती है इंदौर से उज्जैन शहर की दूरी कुल 55 किलोमीटर है इंदौर से उज्जैन जाने के लिए आपको लोकल ट्रेन या फिर प्राइवेट बस टैक्सी आदि जैसी सुविधाएं बहुत ही आसानी से प्राप्त हो जाएगी

उज्जैन शहर में महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के नजदीक ही आपको रात गुजारने के लिए आपके बजट अनुसार छोटे बड़े सभी होटल बहुत ही आसानी से मिल जाएंगे और आपके बजट अनुसार उत्तम भोजन की व्यवस्था भी हो जाएगी

अगर आप लोग चाहे तो काल भैरव मंदिर के नजदीक भी होटल रूम की बुकिंग कर कर वहां पर भी रुक सकते हैं महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर से काल भैरव मंदिर की दूरी कुल 8 किलोमीटर है

महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के बारे में हमने इससे पहले के आर्टिकल में संपूर्ण जानकारी दी है आप चाहे तो उसे भी पढ़ सकते हैं

यह रही उसकी लिंक  





विदेशी नागरिकों के लिए सूचना कैसे जाए काल भैरव मंदिर

फ्लाइट


अगर आप विदेशी नागरिक है और भगवान काल भैरव के दर्शन के लिए उज्जैन आना चाहते हैं तो आपके लिए सबसे नजदीकी एयरपोर्ट हमारे देश का दिल्ली अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट होगा यहां से आप लोगों को उज्जैन जाने के लिए ट्रेन सेवा बस सेवा प्राइवेट टैक्सी सेवा बहुत ही आसानी से मिल जाएगी दिल्ली से उज्जैन की दूरी769 किलोमीटर है अगर आप लोगों को उज्जैन में लैंग्वेज की परेशानी होती है तो वहां पर आप आसानी से एक गाइड सुविधा भी मिल जाएगी और उज्जैन से काल भैरव मंदिर की दूरी कुल 8 किलोमीटर है जहां पर आप ऑटो टैक्सी का प्रयोग कर कर आसानी से पहुंच सकते हैं और भगवान काल भैरव के दर्शन प्राप्त कर कर आपकी मनोकामना प्राप्ति के लिए आशीर्वाद ले सकते हो




टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां