इस मंदिर में होती है नीसंतानों को संतान की प्राप्ति

सिमसा माता मंदिर के फर्श पर सोने मात्र से होती है नी संतानों को संतान की प्राप्ति 

सिमसा माता मंदिर हिमाचल प्रदेश
सिमसा माता मंदिर हिमाचल प्रदेश




जय माता दी

माता पिता बनना दुनिया का सबसे बड़ा सुख है घर में बच्चे की किलकारी गूंजे यह कौन नहीं चाहता पर हर किसी की किस्मत में यह सुख नहीं होता ऐसे में लोग हर कोशिश करते हैं कि उनकी सुनी गोद  भर जाए इसके लिए कई प्रकार के उपचार करते हैं जैसे  एलोपैथि , आयुर्वेद पर कहते हैं ना जो कोई नहीं कर सकता वह भगवान कर सकता है ऐसा ही है हमारा हिमाचल प्रदेश का सिमसा माता मंदिर जहां पर माता सिमसा पिंडी रूप में विराजमान है

नमस्ते दोस्तों मेरा नाम निलेश खैरकर जय मल्हार टूर्स एंड मैनेजमेंट के इस ब्लॉग पेज पर मैं आप सभी लोगों का स्वागत करता हूं आशा करता हूं कि आप लोगों को दी गई जानकारी पसंद आई होगी अगर पसंद आए तो हमारी वेबसाइट जय मल्हार टूर्स को फॉलो करें और हमें मोटिवेट करें

चलिए जानते हैं विस्तार से सिमसा माता मंदिर के बारे में आखिर कैसे मिलता है संतान प्राप्ति का आशीर्वाद है


सिमसा माता मंदिर हिमाचल प्रदेश
सिमसा माता मंदिर हिमाचल प्रदेश


दोस्तों अगर भगवान में विश्वास हो तो हम कुछ भी प्राप्त कर सकते हैं हमने विज्ञान में कितनी भी तरक्की क्यों ना कर ली हो मगर भगवान की शक्ति को नकारा नहीं जा सकता है ऐसा ही है एक चमत्कारी मंदिर जिस मंदिर के फर्श पर सोने मात्र से महिलाएं हो जाती है गर्भवती यह मंदिर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में सिमसा माता मंदिर के नाम से जाना जाता है इस मंदिर की देवी को संतान दायिनी भी कहते हैं

दोस्तों यहां पर कई ऐसे भी लोग आते हैं जिन्हें मेडिकल साइंस ने नकार दिया हो और उनसे साफ कह दिया हो कि आपको संतान की प्राप्ति नहीं हो सकती है ऐसा सुनने के बाद ऐसे लोगों के पास एक ही रास्ता रह जाता है जो है ईश्वर का द्वार

यह भी पढ़ें    पैरालाइस का इलाज संभव है

हमारा भारत देश इसी तरह के चमत्कारों से भरा पड़ा है आए दिनों यहां पर कोई ना कोई चमत्कार जरूर देखने को मिलता है जिस पर मेडिकल साइंस कभी भरोसा नहीं करता उनमें से एक है हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में स्थित माता सिमसा देवी का मंदिर इस मंदिर में

हर साल  नवरात्रि के दिनों में संतान प्राप्ति के आशीर्वाद को प्राप्त करने के लिए कई लोग आते हैं नवरात्रि के दिनों में यहां पर होने वाले एक विशेष महोत्सव को यहां की भाषा में शैलेंद्र कहा जाता है

जिसका अर्थ है सपने आना कहा जाता है कि नवरात्रि के दिनों में इस मंदिर के फर्श पर सोने के लिए दूर-दूर से महिलाएं यहां आती है और जो भी महिला निर्मल और शुद्ध मन से मन में माता के द्वारा भक्ति की आस लिए जो भी स्त्री रात भर फर्श पर सोती है उसे माता स्वयं सपने में आकर संतान प्राप्ति का आशीर्वाद देती है

आशीर्वाद के रूप में माता उन महिलाओं को सपने मैं कोई भी कंदमूल या फल देती है जिस स्त्री को माता ने सपने में फल दिया हो उस महिला को अवश्य संतान की प्राप्ति होती है और इसके कई उदाहरण है जिन लोगों को संतान की प्राप्ति हो चुकी होती है वह लोग भी अपने परिवार के साथ यहां दर्शन के लिए आते हैं यहां पर माता सिमसा पिंडी रूप में विराजमान है

यह भी पढ़ें  आयुर्वेद में कैंसर का इलाज संभव है

और माता इस  बात का भी संकेत देती है कि पुत्र होगा या फिर पुत्री कहा जाता है कि जिस स्त्री को माता रानी ने सपने में अगर फल के रूप में सेब ,अमरूद आदि फल दिए तो समझो पुत्र होगा या भिंडी ककड़ी दी तो पुत्री होगी

अगर किसी स्त्री को सपने में लोहे या लकड़ी की कोई चीज मिले तो इसका अर्थ होता है कि उन्हें कोई भी संतान की प्राप्ति नहीं होगी ऐसी स्त्रियों को मंदिर छोड़कर जाने के लिए कहा जाता है परंतु कुछ महिलाएं नहीं जाती है और फिर ऐसी महिलाओं में अपने आप ही पूरे बदन में खुजली होने लगती है
यहां पर आने वाली महिलाओं में हिमाचल प्रदेश के नजदीकी राज्य पंजाब हरियाणा जम्मू आदि से कई महिलाएं आती है

कैसे जाए सिमसा माता मंदिर संपूर्ण जानकारी

चमत्कारी सिमसा माता मंदिर कैसे जाएं
चमत्कारी सिमसा माता मंदिर कैसे जाएं



पिंडी रूप में विराजमान मां सिमसा का यह चमत्कारी मंदिर हमारे भारत में हिमाचल प्रदेश राज्य के मंडी जिले के अंतर्गत लडभदोल जिले के अंतर्गत आता है यह मंदिर बैजनाथ धाम से 25 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है संपूर्ण दुनिया का और हमारे भारत में हिमाचल प्रदेश में स्थित सबसे सुंदर हिल स्टेशन शिमला से इस मंदिर की दूरी 197 किलोमीटर है और मंडी से इसकी दूरी 93 किलोमीटर है मंडी भी एक बहुत ही सुंदर पर्यटन स्थल है दिल्ली से इसकी दूरी 490 किलोमीटर है और चंडीगढ़ से इसकी दूरी 302 किलोमीटर है यह स्थान देश के सभी राजमार्गों से जुड़े हुए हैं यहां पर आप लोग बस या फिर आपकी प्राइवेट कार से आसानी से आ जा सकते हैं

अगर आप लोग ट्रेन से आना चाहते हैं तो आपके लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन चंडीगढ़ होगा क्योंकि मंडी और शिमला तक अभी ट्रेन लाइन नहीं पहुंची है हां एक ट्रेन लाइन है जोकि कालका रेलवे स्टेशन से शिमला के लिए टॉय ट्रेन के रूप में चलती है अगर आप लोग इस ट्रेन का उपयोग करते हैं तो यह आपके लिए एक लाइफ टाइम एक्सपीरियंस होगा

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद आपको वहां से कई प्रकार की बस और टैक्सी सुविधा मंडी के लिए या फिर लडभदोल तहसील सिमसा माता मंदिर के  लिए आसानी से मिल जाएगी इस स्थान पर आपको रहने के लिए और भोजन के लिए उचित  दामों पर सभी सुविधा प्राप्त हो जाएगी अगर आपको किसी भी प्रकार की असुविधा होती है तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं या फिर मेल कर सकते हैं हम आपको सिमसा माता मंदिर के पुजारियों के और वहां के धर्मशाला वालों के कांटेक्ट नंबर जरूर देंगे
यह रहा हमारा ईमेल आईडी 
jaymalhartours90@gmail.com

विदेशी नागरिक कैसे पहुंचे सिमसा माता मंदिर

विदेशी नागरिक अगर इस चमत्कारी मंदिर के दर्शन के लिए या फिर संतान प्राप्ति के आशीर्वाद को प्राप्त करने के लिए इस स्थान पर आना चाहते हैं तो उनके लिए इस मंदिर से सबसे नजदीक स्थित शिमला हो सकता है अगर आपके देश से शिमला के लिए डायरेक्ट फ्लाइट नहीं मिलती है तो आप लोग चंडीगढ़ या फिर भारत का इंटरनेशनल एयरपोर्ट दिल्ली भी आ सकते हैं दिल्ली से आपको शिमला के लिए  या फिर चंडीगढ़ के लिए आसानी से फ्लाइट मिल जाएगी चंडीगढ़ या शिमला से इस मंदिर तक पहुंचने के लिए आपको हर प्रकार के साधन जैसे बस टैक्सी  आदि जैसी सेवाएं आसानी से उपलब्ध हो जाएगी


आशा करते हैं कि आप लोगों को दी गई जानकारी पसंद आई होगी


जय हिंद जय भारत



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां